शुक्रवार, अक्तूबर 24, 2008

'मानव'

पृथ्वी पर मनुष्य ही
एक ऐसा प्राणी है,
जो अपने मद में मस्त,
अपने में पस्त,
जीवन-यापन में ब्यस्त,
लोगों को करता है त्रस्त,
पता नहीं किस नशे में चूर,
दुनिया से बहुत दूर,
दूसरो के प्रति क्रूर,
अपने जीवन का एक-एक क्षण,
समाज की गतिबिधियों से परे होकर
गुजार देता है.
आखिर ऐसा क्यों है ?
क्या वह नहीं जनता
या फिर,
इस पड़ाव को मंजिल समझकर
अपना लक्ष्य भूल गया है.
जरा सोच !
जिस वत्सल मातृभूमि ने
तुमको जन्म दिया,
पालन-पोषण किया,
उसके प्रति तुम्हारा
कुछ कर्त्तव्य नहीं बनता क्या ?
अब बहुत हो चुका,
निरुद्देश्य मत भटक !
जीवन की सार्थकता को समझ !
हवा में नहीं
ज़मीन से जुड़कर
चिंतन किया कर !

गुरुवार, अक्तूबर 23, 2008

सारे जहाँ से अच्छा ' महाराष्ट्रा ' हमारा

क्या सचमुच 'राष्ट्र' से बड़ा है 'महाराष्ट्र' ?
या फ़िर राष्ट्र में महाराष्ट्र है, या महाराष्ट्र में राष्ट्र है,
या महाराष्ट्र ही उनका (राज ठाकरे)'राष्ट्र' है.
ये बातें राज ठाकरे को स्पष्ट करना चाहिए.
'मराठी मानुष' की बिध्वन्सक राजनीति करने वाले महाराष्ट्र नव-निर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे की हरकतें देश के लिए एक चुनौती है. राज ठाकरे कोई आतंकवादी नही हैं, लेकिन भाषावाद, क्षेत्रवाद के नाम पर 'क्षेत्रीयता का आतंक' मचाये हुए हैं. भारतीय नागरिकों को संविधान प्रदत्त अधिकार है कि वह किसी भी राज्य में जा कर रह सकता है. लेकिन ठाकरे की गतिबिधियाँ संविधान का उल्लंघन कर रही है.
विघटनकारी राजनीति की आग भड़काने वाले राज ठाकरे को देशद्रोही घोषित कर देना चाहिए, ताकि फ़िर कोई 'ठाकरे' अपना सर न उठा सके.

रविवार, अक्तूबर 19, 2008

शहादत का उपहास

दिल्ली के जामिया नगर इलाके की बहुचर्चित मुठभेड़ को लेकर जैसी निकृष्ट राजनीति हो रही है, उसका असर सारे देश पर पड़ रहा है। यह खतरनाक है कि पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों को निशाना बनाया जा रहा है और केंद्रीय सत्ता मौन धारण किये हुए है। वोट बैंक कि क्षुद्र राजनीति के कारण जो लोग इस मुठभेड़ को फर्जी साबित करने और न्यायिक जाँच की मांग कर रहे हैं, वे देश के साथ-साथ स्वयं मुस्लिम समुदाय का अहित कर रहे हैं। इस मुठभेड़ के बाद छद्म पन्थानिरपेक्षतावादी नेताओं में अल्पसंख्यक तुष्टिकरण की होड़ सी मच गई है। ऐसे लोगों को आतंकवाद और इस्लाम में अंतर समझना चाहिए। क्योंकि आतंकवादियों का कोई धर्म नहीं होता। मुठभेड़ को फर्जी बताने वाले मुलायम सिंह, अमर सिंह, रामबिलास पासवान, लालू यादव और मायावती सरीखे नेता देशद्रोही है।
Loading...

समर्थक

लोकप्रिय पोस्ट

Follow by Email

ब्‍लॉग की दुनिया

NARAD:Hindi Blog Aggregator blogvani चिट्ठाजगत Hindi Blogs. Com - हिन्दी चिट्ठों की जीवनधारा Submit

यह ब्लॉग खोजें

Blog Archives